ads

जल्द ही लागू होने वाली है वाहन स्क्रैप पॉलिसी। जानिये आसान शब्दों में।

 Delhi: सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने संसद में नई वाहन कबाड़ पॉलिसी(वाहन स्क्रैप पॉलिसी) पर बहुत जरुरी बात रखी। उन्होने कहा कि 1 अक्टूबर 2021 से पूरे भारत में यह नीति लागू हो जायेगी। इससे वाहन निर्माता, वाहन मालिक और पर्यावरण सबको फायदा होगा।


जल्द ही लागू होने वाली है वाहन स्क्रैप पॉलिसी। जानिये आसान शब्दों में।

क्या है वाहन स्क्रैप पॉलिसी?

भारत में लाखों की तादाद में पुराने वाहन है कुछ सड़कों पर चल रहे हैं, तो कुछ लोगों के घरों रखे हुये हैं दोनों ही सूरतों में इससे नुकसान ही है। सड़कों पर चल रहे वाहनों से निकलने वाला धुंआ वातावरण के नुकसानदायक है, तो वहीं लोगों के घरों में रखा पुराना वाहन जगह और खर्चा बढाने का काम कर रहा है।

इस वाहन स्क्रैप पॉलिसी के अनुसार सरकार जगह जगह पर स्क्रैप स्टेशन लगायेगी, जहां पुराने वाहने के पुर्जे निकाले जायेगे और उनकों क्रश किया जायेगा जिससे वाहन निर्माता कंपनियों के लिये कच्चा माल कम कीमत में मिल जायेगा। स्क्रैप स्टेशन पुराने वाहन पर उसके मालिक को उस वाहन की कीमत का कुछ प्रतिशत रकम देगी और एक स्क्रैप सर्टिफिकेट भी देगी जिससे नई गाड़ी लेने पर उसकों 4 से 5 प्रतिशत छूट मिल सके।

क्या फायदा होगा पुराने वाहन के मालिकों का

यदि किसी व्यक्ति के पास कोई भी डीजल या पेट्रोल का पुराना वाहन है तो उसको  इस पॉलिसी से क्या फायदा मिलेगा, जानते हैं।
  1.  उसे उस वाहन की कीमत का एक निश्चित रकम दी जायेगी और एक स्क्रैप वाहन सर्टिफिकेट मिलेगा। जिससे नये वाहन को लेते समय उसे 5 प्रतिशत की छूट मिल सके।
  2. नया वाहन लेने पर रजिस्टेश फीस माफ होगी और 25 प्रतिशत रोड टैक्स भी माफ होगा।
  3. साथ ही गाड़ी पर डीजल गाड़ी पर 15 साल और पैट्रोल गाड़ी पर 20 साल वैलिड रहेगी। पहले डीजल गाड़ी 10 साल और पैट्रोल गाड़ी 15 साल तक के लिये वैलिड रहती थी।

 और क्या क्या फायदा होगा?

इस नई पॉलिसी के लागू होने से सरकार के राजस्व में बढ़ावा हो जायेगा। एक नई तरह के सेक्टर का उदगम होगा जिससे रोजगार मिलेगा। वाहन निर्माता कंपनियों को वाहन निर्माण के लिये कच्चा माल कम कीमत में मिल सकेगा जिससे ग्राहकों को नई गाड़ियां पहले के मुकाबले कम कीमत में उपलब्ध हो सकेगी। जल्द ही पुराने नार्म्स पर चल रही गाड़िया स्रैप स्टेशन पर होगी और नये वाहन ही सड़कों पर होगे जिससे वायु प्रदूषण के स्तर में कमी आयेगी।


अब उदाहरण से समझते हैं

मान लीजिये मेरे पास 15 साल पुरानी एक कार है इसका फिटनेस टेस्ट कराकर इसको 1 से 2 साल साल और चला लेता हूं लेकिन अब इसको सड़क पर चलना भारी चालान को दावत देने के बराबर है। अब मुझे एक नई कार लेने का मन है । घर में इस पुरानी कार को रखना सही नहीं है क्योंकि जगह घिरेगी। इसलिये मैं पुरानी कार को स्क्रैप स्टेशन पर लाता हूं। वहां मुझे इस पुरानी कार के 1000 रुपये मिलेगे और एक सर्टिफिकेट मिलेगा।

अब मैं 10 लाख की कार खरीदने को जाता हूं, तो मुझे रजिस्ट्रेशन फीस नहीं देनी होगी और इस सर्टिफिकेट पर मुझे उस कार की एक्स शो रुम कीमत पर 5 प्रतिशत की छूट मिलेगी। 10 लाख की कीमत का 5 प्रतिशत मतलब 50,000 की छूट।
 अब बात आयेगी रोड टैक्स की , तो वहां भी 25 प्रतिशत की छूट मिलेगी। 
10 लाख की कार का लगभग रोड टैक्स 60 से 70 हजार होता है। इस रकम पर 25 प्रतिश की छूट का मतलब हुआ 15 हजार से लेकर 17 हजार तक छूट।
इस तरह मुझे नई गाड़ी 76 हजार रुपये की छूट मिल गई। 

क्या  आपको यह नई पॉलिसी अच्छी लगी। कमेंट करके बताइये।





Post a Comment

1 Comments

Emoji
(y)
:)
:(
hihi
:-)
:D
=D
:-d
;(
;-(
@-)
:P
:o
:>)
(o)
:p
(p)
:-s
(m)
8-)
:-t
:-b
b-(
:-#
=p~
x-)
(k)

Close Menu