ads

शार्दुल ठाकुर और वाशिंगटन सुंदर की बल्लेबाजी ने मैच में बनायी पकड़ ।

 New Delhi: शार्दुल ठाकुर और वाशिंगटन सुंदर की बल्लेबाजी ने ऑस्ट्रेलिया की गेदबाजी की कमर तोड़ दी। इन दोने बल्लेबाजों ने 217 गेंदों में 123 रन की साझेदारी करके भारत के स्कोर को 309 तक पहुंचा दिया था। तभी पैट कमिंस की गेंद पर शार्दुल आउट हो गये। शार्दुल ने 67 रन की पारी खेली जिसमे 9 चौक्के और 2 छक्के लगाये इसके लिये उन्होने 115 गेंदों का सामना किया।


शार्दुल ठाकुर और वाशिंगटन सुंदर की बल्लेबाजी ने मैच में बनायी पकड़ ।

वहीं वाशिंगटन सुंदर ने अपना विकेट देने से पहले टीम के स्कोर को 328 रन तक पहुंचा दिया था। इस बल्लेबाज ने एख आलराउडर की भूमिका शानदार तरीके से निभाई। वाशिंगटन सुंदर ने 62 रन की पारी में 7 चौके और 1 छक्का लगाया। 

भारतीय टीम 336 रन पर आल आउट हुई और ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी से 33 रन की बढ़त हांसिल हो गई। बार्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज के चौथे और आखिरी टेस्ट के तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया ने बिना कोई विकेट गवांये  21 रन बना लिये हैं और उसकी कुल बढ़त 54 रन की हो गई है।

दोनों बल्लेबाजों ने बिना कोई खतरा मोल लिये तेजी से रन बनाये और 186 के स्कोर को 300 रन के पार कराया। टेस्ट के तीसरे दिन  जब भारतीय टीम बल्लेबाजी पर आयी, तब 2 विकेट पर 60 रन स्कोर था। चेतेश्वर पुजारा और राहणे संभल कर अपनी पारी खेल रहे थे लेकिन जब टीम का स्कोर 105 पहुंचा तब पुजारा 25 रन पर विकेट कीपर को कैंच दे बैठे। इसके बाद मयंक अग्रवाल मैदान पर उतरे। 

राहणे और मयंक के बीच अच्छी साझेदारी पनप ही रही थी कि रहाणे 37 रन बनाकर स्टार्क की गेद पर आउट हो गये तब टीम का स्कोर 144 रन पर 4 विकेट था। ऋषभ पंत के मैदान पर उतरते ही लगने लगा कि रन की गति तेज होगी और यह बल्लेबाज कोई खास करेगा लेकिन  17 रन की साझेदारी कर स्कोर 161 रन हुआ कि मयंक अग्रवाल 38 रन पर आउट हो लिये।

अब स्कोर 5 विकेट पर 161 रन था। ऋषभ का साथ देने के लिये वाशिंगटन सुंदर आये। इधर पंत ने तेजी से रन बनाना जारी रखा और इसी जल्दबाजी में 23 रन बना डाले और आउट हो लिये अब टीम का स्कोर 186 पर 6 विकेट हो गया।

इस स्कोर पर लगने लगा कि भारत शायद ही 200 रन तक पहुंच पायेगा लेकिन दोनों बल्लेबाजों ने तेजी रन बनाना भी जारी रखा और टीम का स्कोर 300 के पार पहुंचाया। और या साझेदारी 309 रन पर शार्दुल के विकेट से समाप्त हुई। 

Post a Comment

0 Comments

Close Menu