Select Language

Tuesday, January 26, 2021

क्यों जरुरी है पालिसी बाजार से इन्शुरन्स कम्पेयर करना?

 क्यों जरुरी है पालिसी बाजार से इन्शुरन्स कम्पेयर करना?
क्यों जरुरी है पालिसी बाजार से इन्शुरन्स कम्पेयर करना?

New Delhi: पालीसी बाजार से इन्शुरन्स कम्पेयर करना बहुत जरुरी है। यहां आपको हर तरह का इन्शुरन्स निर्धारित कीमतों में उपलब्ध है। यहां आपको दूसरी कंपनियों की इन्शुरंस पालिसी को अपनी जरुरत के हिसाब से समझने का विकल्प मिलता है जिससे आप अपने मनमुताबिक अपना सकते हैं। ऑन-लाइन सेवा की वजह से बिना किसी झंझट के आपका काम हो जाता है।

हर इन्शुरन्स कंपनी अपनी सेवा के लिये तरह तरह के विकल्प देती है जिससे आप के बजट में जो फिट बैठे , वो पालीसी आप अपना सकते हैं।

क्यों जरुरी है इन्शुरन्स ?

आपका या आपके परिवार का स्वास्थ हो, या आपका कोई वाहन, हर किसी की अपनी वेल्यू होती है। परिवार के सदस्य का ध्यान रखना और भविष्य कि किसी भी आर्थिक संकट को कम करने के लिये व्यक्ति इन्शुरन्स के बारे में सोचता है। किसी भी आर्थिक संकट की घड़ी को इन्शुरेन्स पालिसी की मद्द से काफी हद तक कम किया जा सकता है।
हेल्थ इन्शुरेन्स की पालिसी आपके कमाई को दवाईयों औऱ ऑपरेशन के खर्च में जाने से बचाती है। आज हमारे सामने कई बार सुनने को मिलता है कि फलां-फलां बीमारी में सब कमाई खर्च हो गई। इसी वजह से समझदार लोग हेल्थ इन्शुरेन्स कराते हैं।
वाहन का बीमा भी आपकों काफी सुकून देता है। वाहन चोरी हो जाये, या कोई दुर्घटना हो जाये, तो इन्शुरेन्स से काफी मद्द हो जाती है। 

Monday, January 25, 2021

चीनी सेना के 20 जवान घायल, नाकुला बार्डर पर दोनों सेना के जवानों में हुई हल्की झड़प ।

 New Delhi: चीनी सेना की तरफ से की गई घुसपैठ को भारतीय सैनिकों ने एक बार फिर से नाकाम कर उसके 20 सैनिकों की अच्छे से कुटाई कर दी।


चीनी सेना के 20 जवान घायल, नाकुला बार्डर पर दोनों सेना के जवानों में हुई हल्की झड़प ।

 भारतीय सेना की तरफ से एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि 20 जनवरी को चीनी सेना की एक टुकड़ी सिक्किम में नाकुला बार्डर पर घुसपैठ की कोशिश कर रहे थे जिसमें दोनों ओर से हल्की झड़प हुई।

इस झड़प में चीन के 20 सैनिक घायल हुये हैं वहीं भारत के 4 जवानों को  मामूली चोटे आयी हैं। चीन के सरकारी अखबार ने अपने 20 सैनिक घायल होने कती खबर को फर्जी बताया है।

इस हल्की झड़प के बाद बढ़े तनाव को भारत और चीनी सेना के कमांडरों द्वारा अपने स्तर पर निपटा लिया गया है लेकिन वहां माहौल अभी भी तनावपूर्ण बना हुआ है।

बीते साल जून 14 की रात को भारत और चीन के सैनिकों में हिंसक झड़प हुई थी जिसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गये थे और 70 के लगभग सैनिक घायल हुये थे वहीं चीनी सेना को भी नुकसान हुआ था लेकिन चीन ने इस बारे में कोई बयान जारी नहीं किया था।

चीन की विस्तारवादी नीति की वजह से माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है। चीनी सेना पिछले कुछ महीनों में भारत की सैनिक कार्रवाही से जरुरी जगहों को खो चुकी है जिसकी वजह से वह रोज कोई ना कोई घुसपैठ करने में लगी रहती है लेकिन भारतीय सैनिकों की मुस्तैदी के चलते उसके सैनिकों का दम निकल जाता है।

Tuesday, January 19, 2021

भारत ने जीती बार्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज।

 

New Delhi: 327 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही भारतीय टीम शानदार जीत के साथ सीरीज जीत गई, इसका क्रिकेट के जानकारों को अंदेशा भी नहीं था। क्रिकेट एक्सपर्ट इस आखिरी मैच के परिणाम को ड्रा को रुप में देख रहे थे लेकिन शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, ऋषभ पंत और वाशिंगटन सुंदर ने शानदार बल्लेबाजी करके रिकार्ड जीत अपने नाम कर ली।


भारत ने जीती बार्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज।

भारत ने टेस्ट सीरीज 2-1 से जीत ली है। इससे पहले एकदिवसीय मैच की सीरीज भी 2-1 से भारत ने अपने नाम की थी। भारत का ऑस्ट्रेलिया दौरा 3 मैचों की टी-20 सीरीज से शुरु हुआ था और यह सीरीज ऑस्ट्रेलिया ने 2-1 से जीती थी लेकिन इसके बाद जो हुआ वो दशकों में एक बार होता है।

बार्डर-गावस्कर सीरीज का चौथा और आखिरी मैच ब्रिस्बेन में खेला गया जिसमें ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और 10 विकेट के नुकसान पर 369 रन बना लिया। इस मैच में भारतीय गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलिया को ज्यादा बड़ा स्कोर बनाने से रोक दिया। जब भारत बल्लेबाजी करने आया, तब उसके 6 विकेट 186 रन पर गिर चुके थे। अब ऑस्ट्रेलिया गेदबाजी का सामना वाशिंगटन सुंदर और शार्दुल ठाकुर कर रहे थे। दोनो बल्लेबाजों ने 123 रन जोड़कर टीम का स्कोर 300 रन के पार पहुंचाया। वाशिंगटन सुंदर 62 औऱ शार्दुल ठाकुर 67 रन बनाकर आउट हुये औऱ भारतीय टीम 10 विकेट के नुकसान पर 329 रन तक पहुंच गई।

 

अब ऑस्ट्रेलिया के पास 37 रनों की बढ़त थी। इधर भारतीय गेदबाज ऑस्ट्रेलिया को कम रनों पर रोकना चाहते थे और लगभग ऐसा हुआ भी फिर भी ऑस्ट्रेलिया 327 रनों का लक्ष्य देने में कामयाब रही। दूसरी पारी में लक्ष्य का पीछा करने उतरी सलामी जोड़ी शुभमन गिल और रोहित शर्मा पर काफी उम्मीदे थी लेकिन जल्द ही रोहित 7 रन बनाकर आउट हो गये। बल्लेबाजी के लिये आये चेतेश्वर पुजारा ने संभलकर खेलना शुरु किया औऱ शुभमन गिल के साथ मिलकर साझेदारी शुरु कर दी। शुभमन गिल 91 रन बनाकर आउट हुये तब टीम का स्कोर 2 विकेट पर 132 रन था। अंजिक्य राहणे ने तेजी से रन बनाकर विपक्षी टीम को यह बता दिया कि मैच जीतने के लिये भारतीय टीम खेल रही है लेकिन इसी तेजी के चक्कर में राहणे आउट हो गये।

अब मैदान पर ऋषभ पंत आये औऱ उन्होने अपनी आक्रमक शैली में बल्लेबाजी जारी रखी। उधर पुजारा ने भी अपना अर्धशतक पूरा कर लिया। दोनों ने टीम का स्कोर 228 रन तक पहुंचा दिया औऱ इसी स्कोर पर पुजारा 56 रन पर आउट हो गये।

इस समय लगने लगा कि भारतीय टीम अब मैच को ड्रा कराने के लिये खेलेगी लेकिन वाशिंगटन सुंदर ने एक बार फिर जीत की उम्मीद को जगा दिया औऱ दोनों बल्लेबाजों ने 53 गंदों नें 50 रन जोड़ दिये। बस फिर क्या था भारतीय टीम जीत के दरवाजे पर खड़ी थी। वाशिंटन के आउट होने के बाद शार्दुल मैदान पर आये औऱ उन्होने भी जल्दबाजी में सुंदर की तरह अफना विकेट गवां दिया । अब टीम को जीत के लिये 3 रन चाहिये थे और 4 ओवर शेष थे, ऋषभ पंत ने इस जीत के लिये एक-एक रन लेने के बजाये चौका मारना मुनासिब समझा औऱ 2-1 से सीरीज को भारत के पक्ष में कर दिया।

Sunday, January 17, 2021

क्या भविष्य की पृथ्वी बनेगा मंगल ग्रह?

 New Delhi: मानव जाति का विकास कैसे हुआ? क्या यह जाति किसी दूसरे ग्रह से धरती पर आयी है ? ना जाने कितने ही सवाल लोगों के मन में होगें जिनका कोई सटीक जबाब नहीं मिला है लेकिन मानव की भविष्य की धरती के लिये मंगल को खास समझा जा रहा है।


क्या भविष्य की पृथ्वी बनेगा मंगल ग्रह?

क्या भविष्य की पृथ्वी बनेगा मंगल ग्रह.....यदि अंतरिक्ष वैज्ञानिकों की माने, तो ऐसा जरुर होगा। यह होगा कैसे इसको साधारण और सरल भाषा में समझते हैं।

हमारी पृथ्वी के अलावा एक यही लाल ग्रह ऐसा है जिसकी लगभग हर भौगोलिक स्थिति हमारी पृथ्वी से मिलती जुलती है लेकिन दूसरे ग्रहों के साथ ऐशा नहीं है किसी का तापमान बहुत ज्यादा गर्म है तो किसी पर एसिड की बारिश होती है।

मंगल ग्रह को ही क्यों चुना


इसके पीछे का कारण यह है कि जीवन के लिये पानी का होना आवश्यक है और लाला ग्रह (मंगल) पर पानी प्रचुर मात्रा में मौजूद है। यहां पानी बर्फ के रुप में जमीन के नीचे है। इसके उत्तरी ध्रुव पर ग्लेशियर भी है जिसकी वजह से वैज्ञानिक इसको भविष्य की पृथ्वी के रुप में देख रहे हैं।

मंगल पर तापमान की बात की जाये तो यहां पर औसत तापमान -60 सेल्सियस से -140 सेल्सियस तक रहता है। यहां भी पृथ्वी की तरह मौसम चक्र चलता है। 
यहां की जमीन भी पृथ्वी की तरह कठोर और चट्टानी है। मंगल की मिट्टी लाल रंग की है जिसकी वजह है मिट्टी में आयरन ऑक्साइड (iron oxide) का होना। सीधे शब्दों में कहा जाये, तो इस ग्रह की मीटी में मौजूद लोह तत्वों पर जंग लगी हुई है जिसकी वजह से यह लाल रंग का दिखता है।

मंगल ग्रह पर 1967 से कई मिशन अब तक दुनिया की अंतरिक्ष ऐजेसी भेज चुकी है और सफलता भी मिली है जिसकी वजह से ही वैज्ञानिक इश निष्कर्ष पर पहुंच पाये हैं कि मानव आने वाले समय में मंगल पर भी रहेगा।

कितना समय और लगेगा 

वैज्ञानिकों का कहना है कि मंगल को पृथ्वी के जैसा वतावरण बनाने के लिये लगभग 1000 साल लग जायेगे लेकिन यदि यहां पर प्रयोगशाला खोलने बात की जाये, तो लगभग 50 साल के लगभग यहां पर मानव रह सकता है और प्रयोग कर सकता है। 
वहीं कुछ दूसरे वैज्ञानिकों का मानना है कि यदि इसके उत्तरी ध्रुव पर मौजूद वर्फ पिघलना शुरु हो जाये, तो लगभग 100 सालों में वहां कुछ जरुरी प्रोयागात्मक तरीके से रहा जा सकता है।

अब इन बातों को सरल तरीके से समझते हैं। दरअसल मंगल का वातावरण काफी पतला है जिसकी वजह से वहां पर अंतरिक्ष से कई तरह का रेडिएशन होता रहता है जो कि हमारे लिये काफी घातक है। हमारी पृथ्वी की सुरक्षा के लिये तो ओजोन लेयर है जो इश तरह के रेडिएशन को रोक देती है पर मंगल पर ऐसा कुछ नहीं है। आये दिन वहां पर उल्कापिंड गिरते रहते हैं जो कि हमारे लिये तो खतरनाक ही है। 
तो भईया वैज्ञानिक यही कह रहे हैं कि इस ग्रह के वातावरण में कुछ छेड़छाड़ की जाये। और वैसे भी साल 2024 तक मानव मिशन मंगल मिशन के लिये तैयार भी हो जायेगा। 
ना जाने कौन वह भाग्यशाली व्यक्ति होगा जिसे मंगल पर जाने का मैका मिलेगा।

शार्दुल ठाकुर और वाशिंगटन सुंदर की बल्लेबाजी ने मैच में बनायी पकड़ ।

 New Delhi: शार्दुल ठाकुर और वाशिंगटन सुंदर की बल्लेबाजी ने ऑस्ट्रेलिया की गेदबाजी की कमर तोड़ दी। इन दोने बल्लेबाजों ने 217 गेंदों में 123 रन की साझेदारी करके भारत के स्कोर को 309 तक पहुंचा दिया था। तभी पैट कमिंस की गेंद पर शार्दुल आउट हो गये। शार्दुल ने 67 रन की पारी खेली जिसमे 9 चौक्के और 2 छक्के लगाये इसके लिये उन्होने 115 गेंदों का सामना किया।


शार्दुल ठाकुर और वाशिंगटन सुंदर की बल्लेबाजी ने मैच में बनायी पकड़ ।

वहीं वाशिंगटन सुंदर ने अपना विकेट देने से पहले टीम के स्कोर को 328 रन तक पहुंचा दिया था। इस बल्लेबाज ने एख आलराउडर की भूमिका शानदार तरीके से निभाई। वाशिंगटन सुंदर ने 62 रन की पारी में 7 चौके और 1 छक्का लगाया। 

भारतीय टीम 336 रन पर आल आउट हुई और ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी से 33 रन की बढ़त हांसिल हो गई। बार्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज के चौथे और आखिरी टेस्ट के तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया ने बिना कोई विकेट गवांये  21 रन बना लिये हैं और उसकी कुल बढ़त 54 रन की हो गई है।

दोनों बल्लेबाजों ने बिना कोई खतरा मोल लिये तेजी से रन बनाये और 186 के स्कोर को 300 रन के पार कराया। टेस्ट के तीसरे दिन  जब भारतीय टीम बल्लेबाजी पर आयी, तब 2 विकेट पर 60 रन स्कोर था। चेतेश्वर पुजारा और राहणे संभल कर अपनी पारी खेल रहे थे लेकिन जब टीम का स्कोर 105 पहुंचा तब पुजारा 25 रन पर विकेट कीपर को कैंच दे बैठे। इसके बाद मयंक अग्रवाल मैदान पर उतरे। 

राहणे और मयंक के बीच अच्छी साझेदारी पनप ही रही थी कि रहाणे 37 रन बनाकर स्टार्क की गेद पर आउट हो गये तब टीम का स्कोर 144 रन पर 4 विकेट था। ऋषभ पंत के मैदान पर उतरते ही लगने लगा कि रन की गति तेज होगी और यह बल्लेबाज कोई खास करेगा लेकिन  17 रन की साझेदारी कर स्कोर 161 रन हुआ कि मयंक अग्रवाल 38 रन पर आउट हो लिये।

अब स्कोर 5 विकेट पर 161 रन था। ऋषभ का साथ देने के लिये वाशिंगटन सुंदर आये। इधर पंत ने तेजी से रन बनाना जारी रखा और इसी जल्दबाजी में 23 रन बना डाले और आउट हो लिये अब टीम का स्कोर 186 पर 6 विकेट हो गया।

इस स्कोर पर लगने लगा कि भारत शायद ही 200 रन तक पहुंच पायेगा लेकिन दोनों बल्लेबाजों ने तेजी रन बनाना भी जारी रखा और टीम का स्कोर 300 के पार पहुंचाया। और या साझेदारी 309 रन पर शार्दुल के विकेट से समाप्त हुई। 

Saturday, January 16, 2021

रोहित शर्मा को नहीं इस बात का मलाल।

 New Delhi:  भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच ब्रिस्बेन में खेला जा रहे चौथे और अंतिम टेस्ट मैच के दूसरे दिन बारिश ने दोपहर बाद का सारा समय बरबाद कर दिया ।


रोहित शर्मा को नहीं इस बात का मलाल।

बार्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज का दूसरा दिन दोनों ही टीमों के लिये मिला-जुला रहा। भारत ने दिन का खेल खत्म होने तक 2 विकेट के नुकसान पर 62 रन बना लिये थे। चेतेश्वर पुजारा 8 रन और अजिक्य राहणे 2 रन पर खेल रहे थे।

भारतीय गेंदबाजों ने सुबह के दो सेशन में ऑस्ट्रेलिया की शेष बची बल्लेबाजी को 359 रन पर आउट करके बड़े स्कोर तक जाने से रोक दिया, वहीं रोहित शर्मा ने अपनी बल्लेबाजी से विपक्षी गेदबाजों को परेशानी में डाले रखा। नाथन लियोन की एक गेंद को सीमा रेखा के पार पहुंचाने के चक्कर में रोहित 44 रन पर स्टार्क को कैच दे बैठे। इसके बाद उनकी जमकर आलोचना हो रही है। रोहित ने पत्रकार वार्ता में अपने इस शॉट पर मलाल न होने की बात कही। उन्होने कहा कि वे आगे भी इसी तरह के शॉट खेलते रहेगे।

दरअसल पूर्व धाकड़ बल्लेबाज और कॉमेंटेटर सुनील गावस्कर ने रोहित के इस तरह के गैर-जिम्मेदाराना शॉट पर विकेट देने पर आडे हाथो लिया। गावस्कर ने कहा कि जब नाथन के ओवर में एक चौका लग चुका था तब क्यों इस तरह का शॉट खेला गया। पूर्व बल्लेबाज ने कहा कि ये टेस्ट क्रिकेट बल्लेबाजों के सब्र का इंतिहान लेता है और यही इसकी खासियत है। रोहित ने भारत को अच्छी स्थिति में पहुचा दिया था लेकिन उनकी इस गलती ने फिर से हमको बैकपुट पर धकेल दिया है।


  

Friday, January 15, 2021

Prashant Bhushan shares Arnab's whatsapp chat | अर्नब गोस्वामी की whatsapp chat लीक

 New Delhi: जाने माने वकील प्रशांत भूषण ने Rebublic TV के पॉपुलर फेस अर्नब गोस्वामी की मुश्किले बढ़ा दी है। उन्होने अपने Twitter Account से अर्नब गोस्वामी और बार्क के पूर्व सीईओ पार्थो दास गुप्ता की whatsapp chat के screenshots शेयर किये हैं।


Prashant Bhushan shares Arnab's whatsapp chat

जाने माने वकील प्रशांत भूषण ने Rebublic TV के पॉपुलर फेस अर्नब गोस्वामी की मुश्किले बढ़ा दी है। उन्होने अपने Twitter Account से अर्नब गोस्वामी और बार्क के पूर्व सीईओ पार्थो दास गुप्ता की whatsapp chat के screenshots शेयर किये हैं। साथ ही प्रशांत भूषण ने लिखा है कि यह सब सबूत अर्नब को जेल पहुंचाने के लिये काफी हैं। 
अर्नब गोस्वामी की whatsapp chat लीक

दरअसल इस Chat में दोनों के बीच की बातचीत सोशल  मीडिया में ट्रैंड कर रही है। कुछ लोग इस बातचीत को फर्जी बता रहे हैं, तो कुछ लोग मीडिया के एक खास वर्ग को निशाना बना रहे हैं। मामला जो भी हो लेकिन एक बात तो माननी होगी कि नये साल में राजनीति और माडिया का मनोरंजन चरम पर पहुंच गया है इस शेयर के साथ।


इस मामले में अर्नब का क्या होगा, यह तो जल्द पता चल जायेगा लेकिन Whatsapp chat का समाचारों में सुर्खी बटरोना कोई नया नही है। कई बार कई तरह की Whatsapp Chat समाचार चैनलों पर खूब चटकारे लेकर पढी गई हैं।